जीजा साले सोते हुए गंगा में समाए


हरिद्वार, 24 नवंबर। हरिद्वार ज्वालापुर कोतवाली क्षेत्र में गंगा से सटी हुई राजीव कॉलोनी में गोशाला के लिए भूसे की ट्रॉली लेकर आए जीजा साले रविवार सुबह करीब चार बजे सोते हुए गंगा में समा गए। दोनों ट्रॉली गंगा किनारे लगा कर सो रहे थे, तभी ट्रॉली गंगा में समा गई। पुलिस दोनों की तलाश कर रही है। लेकिन अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार नफीस पुत्र यासीन, यूनूस पुत्र कल्लन, इकबाल पुत्र कल्लन और मुस्तकीम पुत्र अली हसन निवासी भिक्कमपुर, खानपुर लक्सर राजीव नगर स्थित गौशाला में भूसेे की ट्रॉली लेकर आए थे।


सुबह करीब चार बजे नफीस और युनूस गौशाला में चले गए और जबकि इकबाल और मुस्तकीम ट्रॉली में ही सो रहे थे। बताया जा रहा है कि ट्रॉली गंगा किनारे खडी थी और न्यूट्रल में होने के कारण ट्रॉली गंगा में गिर गई। इसी के साथ इकबाल और उसका जीजा मुस्तकीम गंगा में समा गए। इसके बाद जब नफीस और युनूस बाहर आए तो उन्होंने ट्रॉली को वहां नहीं पाया। काफी तलाश के बाद भी जब कुछ पता नहीं चला तो पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने तलाश की तो गंगा में ट्रॉली मिली। इसके बाद दोनों की तलाश की गई। लेकिन अभी तक दोनों का कुछ पता नहीं चल पाया है। गंगा में गिरी ट्राली को क्रेन की मदद से बाहर निकाला गया। घटना का पता चलते ही आसपास के सैकड़ों लोग मौके पर जमा हो गए। ज्वालापुर कोतवाली प्रभारी योगेश देव ने बताया कि दोनों की तलाश की जा रही है।