आयोग की परीक्षाओं में निष्पक्षता एवं पारदर्शिता के दिए निर्देश
देहरादूनः मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने अधिनस्थ चयन आयोग के अध्यक्ष एवं सचिव को आयोग की परीक्षाओं को निष्पक्षता एवं पारदर्शिता के साथ सम्पादित करने के निर्देश दिये हंै। उन्होंने यह भी निर्देश दिये है कि आयोग द्वारा सम्पादित की जाने वाली परिक्षाओं में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी सामने आने पर उसकी व्यापक स्तर पर जांच की जाए तथा जांच में दोषी पाये जाने वाले व्यक्तियों के विरूद्व कठोर कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं को सुव्यवस्थित ढंग से संपन्न कराये जाने की भी प्रभावी व्यवस्था की जाए। इसके लिये जो भी आवश्यक प्रयास एवं व्यवस्थायें की जानी है वह की जाए।

उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिए है कि चयन प्रक्रियया को बाधित करने वालों को किसी भी स्तर पर बक्शा नहीं जायेगा। जांच में यदि कक्ष निरीक्षक भी किसी स्तर पर दोषी पाये जाते है तो उनके विरूद्व भी कार्यवाही की जाए।

आयोग के अध्यक्ष एस. राजू ने कहा कि आयोग द्वारा इस सम्बन्ध में कार्यवाही की जा रही है। इस दिशा में पुलिस द्वारा भी कार्यवाही की जा रही हैं। उन्होंने भविष्य में आयोग की परीक्षाओं को ऑनलाइन किये जाने तथा परीक्षा केन्द्र पर जैमर लगाये जाने का भी सुझाव दिया ताकि परीक्षा केन्द्रों पर ब्लू चिप या मोबाइल का उपयोग निष्प्रभावी किया जा सके।