सुभारती अस्पताल आइसोलेशन एवं होटल ताइक्जेन क्वारेन्टाइन सेन्टर के रूप में अधिग्रहित
नवल टाइम्सः  कोरोना वायरस कोविड-19 का विश्वभर में प्रकोप के कारण वायरस संक्रमित व्यक्ति चिन्हित हो रहे हैं। जनपद देहरादून में कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं बचाव को लेकर जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में बैठक जिलाधिकारी कैम्प कार्यालय में आईआरएस सिस्टम को एक्टिवेट करने सम्बन्धी बैठक हुई। जिलाधिकारी ने जनपद विभिन्न स्थानों पर यथा सुभारती अस्पताल को आइसोलेशन एवं होटल ताइक्जेन को क्वारेन्टाइन सेन्टर बनाये जाने हेतु पूर्णरूप से अधिग्रहण करने के निर्देश दिये हैं।

उन्होंने बताया कि आयशोलेशन एवं क्वारेन्टाइन सेन्टरों पर प्रशिक्षित चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराई जायेंगी, जिन पर पूर्ण सुरक्षा का दायित्व पुलिस विभाग द्वारा किया जायेगा।

जिलाधिकारी ने बचाव में सुरक्षा की बात करते हुए कहा कि लोगों का अधिकाधिक जागरूक करने हेतु विभिन्न चौक चौराहों आदि स्थानों पर लाउडस्पीकरों से मुनादी के साथ ही पम्पलेट एवं बैनरों का भी प्रयोग किये जाने के निर्देश दिये।

उन्होंने वन अनुसंधान संस्थान परिसर में वायरस संक्रमित अधिकारियों पर नजर रखने के साथ ही उनकी चिकित्सकीय एवं खाने-पीने की व्यवस्थाएं चलाये जाने के भी निर्देश दिये। 

उन्होंने ऋषिकेश क्षेत्र में नगर निगम को विशेष साफ-सफाई व्यवस्था कराने के साथ ही लोगों को कोरोना वायरस के बारे में जागरूक बनाने पर बल दिया। उन्होंने कहा कि होटलों में आने-जाने वाले यात्रियों के बारे में उनके द्वारा की गयी पूर्व यात्रा के इतिहास की भी जानकारी प्राप्त करने के निर्देश उप जिलाधिकारी एवं पुलिस क्षेत्राधिकारियों को दिये। उन्होंने सिविल डिफेंस के लोगों को जनता के बीच जागरूकता पैदा करने पर बल दिया। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारियों एवं पुलिस क्षेत्राधिकारियो को निर्देश दिये कि अपने-अपने क्षेत्रों में सभी मन्दिर, मस्जिद, गुरूद्वारों एवं चर्च के धर्मगुरूओं को कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए भीड़-भाड़ या किसी जमावड़े को टालने या सम्भवतः स्थगित करने की सलाह देते हुए एक दूसरे के बीच उचित दूरी बनाये रखने तथा एक साथ लोगों को इकठ्ठा न होने दिया जाय।