बारिश ने किया किसानों की फसल को बर्बाद,अगले 24 घंटों में भारी बारिश की संभावना  
संजीव शर्मा, हरिद्वारः हरिद्वार में शुक्रवार सुबह तेज बारिश के साथ ओले भी पड़े। सुबह के समय में दो बार ओले पड़े। लगातार बारिश होने से अब यहां लोग परेशान हो गए हैं। बारिश के साथ तेज गर्जनाओं से लोग सहमे हुए हैं। इस बार किसानों पर मौसम की बड़ी मार पड़ी है। बेमौसम बारिश ने किसानों की फसल को बर्बाद कर दिया है।

कुमाऊं में चंपावत, भीमताल, लोहाघाट, मुकतेश्वर, नैनीताल, पंतनगर, अल्मोड़ा, रुद्रपुर, जसपुर, टनकपुर, रामनगर, पिथौरागढ़ और बागेश्वर सहित अधिकतर इलाकों में बारिश हो रही है। वहीं गुरुवार रात उच्च हिमालय क्षेत्रों में बर्फबारी होने की सूचना भी है।

इससे पहले गुरुवार को बदरीनाथ-केदारनाथ धाम, हेमकुंड साहिब, फूलों की घाटी, गौरसों, औली के साथ ही ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हुई, जबकि निचले क्षेत्रों में बारिश हुई।  मदमहेश्वर, तुंगनाथ, चंद्रशिला सहित अन्य ऊंची चोटियों पर हल्की बर्फबारी और निचले क्षेत्रों में बारिश हुई, जिससे ठंड बढ़ गई है। रुद्रप्रयाग जिला मुख्यालय सहित तिलवाड़ा, अगस्त्यमुनि, जखोली, मयाली, ऊखीमठ, गुप्तकाशी, जखोली, फाटा, चोपता, चोपड़ा आदि स्थानों में बारिश होने से कड़ाके की ठंड हो रही है।

शुक्रवार को गंगोत्री, यमुनोत्री धाम, मुखबा, हर्षिल, धराली, सुक्की, जानकीचट्टी, खरसाली आदि ऊंचाई वाले इलाकों में भी बर्फबारी हुई। वहीं चकराता की पहाड़ियां भी बर्फ की सफेद चादर से ढक गईं।

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र ने देहरादून, हरिद्वार, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर में अगले 24 घंटों में भारी बारिश, ओलावृष्टि और 45-55 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से आंधी आने की संभावना जताई है। 25 सौ मीटर से अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी हो सकती है।