भोजनमाताओं का धरना 65वें दिन भी जारी

विकासनगरः  बीईओ कार्यालय में मांगों को लेकर भोजनमाताओं का धरना 65वें दिन भी जारी रहा। भोजनमाताओं का कहना है कि जब सरकार महिलाओं की समस्याओं पर ध्यान नहीं दे रही है तो महिला दिवस मना कर क्या करेंगे।


संगठन की प्रदेश अध्यक्ष उषा देवी ने कहा कि भोजनमाताएं अपनी जायज मांगों को लेकर रात दिन धरने पर बैठने पर मजबूर हैं। लेकिन सरकार भोजनमाताओं की सुध लेने को तैयार नहीं है। उन्होने कहा कि भोजनमाताओं ने निर्णय लिया है कि वे महिला दिवस को विरोध् दिवस के रूप में मनाएंगी।


धरना देने वालो में आशा रावत, चंपा, संसारवती, कला देवी, बबीता, माधुरी तोमर, बाला, शशी, सुनीता, चंपो देवी, सीता, कनीज, ममता, निर्मला, लीला, अनीता, लक्ष्मी, बबली, प्रतिमा, संजो, कुसुम आदि शामिल थी।