हिंडोलाखाल में क्षेत्र एक सप्ताह से पेयजल आपूर्ति ठप

टिहरी: ब्लॉक मुख्यालय हिंडोलाखाल सहित क्षेत्र कई गांवों में पिछले एक सप्ताह से पेयजल आपूर्ति न होने लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। जनरल ओबीसी कर्मियों के हड़ताल पर जाने से पानी की पंपिंग और पाइप लाइन की मरम्मत न होने से यह समस्या पैदा हुई है।


ब्लॉक मुख्यालय हिंडोलाखाल सहित उसके आस-पास के करीब 85 गांवों में पिछले एक हफ्ते से पेयजल आपूर्ति नहीं हो पा रही है। बागवान पम्पिंग योजना से जुड़े डांडा तोक में बने मुख्य पेयजल टैंक तक पिछले एक सप्ताह से अलकनंदा नदी से पानी लिफ्ट न होने से यह स्थिति उत्पन हुई है।


समाज सेवी डॉ. जेपी उनियाल का कहना है कि ब्लॉक मुख्यालय में करीब चार सौ जल संयोजन हैं जो हफ्ते भर से ठप पड़े हैं। पानी की आपूर्ति न होने से सबसे बड़ी दिक्कत बोर्ड परीक्षार्थियों को झेलनी पड़ रही है। जिन्हें पढ़ाई छोड़ कई किमी दूर से पानी ढोना पड़ रहा है। पूर्व प्रमुख जयपाल पंवार का कहना है कि जनरल ओबीसी कर्मचारियों की हड़ताल के चलते कई जगहों पर पाइप लाइनों की मरम्मत का काम भी नहीं हो पा रहा है। जिससे पेयजल संकट गहराया हुआ है।


बताया कर्मचारियों की हड़ताल के कारण दफ्तरों में भी शिकायतें दर्ज नहीं हो पा रही है। उधर देवप्रयाग जल संस्थान ईई राजीव सैनी का कहना है कि पिछले दिनों हुई बारिश से क्षेत्र में विद्युत आपूर्ति खासी प्रभावित हुई हैं, जिसके चलते पानी की पम्पिंग नहीं हो पाई है।


बताया जल संस्थान व ऊर्जा निगम कर्मियों की हड़ताल का जलापूर्ति पर कोई खास असर नहीं पड़ा हैं। हिंडोलाखाल क्षेत्र के अवर अभियंताओं के हड़ताल पर चले जाने के बाद अन्य अवर अभियंताओं क्षेत्र का चार्ज दिया गया है। जल्द क्षेत्र में पेयजल आपूर्ति सुचारू कर दी जाएगी।