जारूकता ही बचायेगी कोरोना से: जिला चिकित्सा अधिकारी
हरिद्वार, संजीव शर्मा: विश्व भर में तेजी से बढ़ रही कोरोना वाइरस की महामारी को लेकर उत्तराखंड सरकार व शासन प्रशासन द्वारा लगातार सावधानी और सतर्कता बरतने के लोगों को लगातार जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है। आज जिला चिकित्सा अधिकारी सरोज नैथानी ने प्रेस क्लब हरिद्वार में पत्रकारों से वार्ता कर बताया कि जिले में कोरोना वायरस के बचाव के लिए 70 आइसोलेशन बेड मौजूद है, 100 और नए बेड बनाने की तैयारी जारी है। 23 वेंटिलेटर , 44 आईसीयू बेड की व्यवस्था है। कोरेन्टाइन फैसिलिटी के लिए बीएचईएल और आरोग्यम जैसे प्राइवेट हॉस्पिटल की मदद ली जा रही है। जिला मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने वार्ता में बताया कि अभी तक हरिद्वार में 12 कोरोना के संदिग्ध मरीज आये जिनमे से किसी को भी कोरोना की पुष्टि नहीं हुई।


उन्होंने बताया कि जनपद में हाल में कुल 6 संदिग्ध मरीज भर्ती है जिनमे से 2 को कल समय पूरा होने डिस्चार्ज कर दिया जायेगा। सरोज नैथानी ने कहा की कोरोना वायरस से केवल हमें जागरूक रहकर ही बच सकतेे हैं जब तक हम सभी लोग जागरूक नहीं होंगे तब तक कोरोना वायरस जैसी बीमारी से पीछाा नहीं छूटेगा हमें एक दूसरे उचित दूरी बनाााकर बातचीत करनी चाहिए मुंह ओर नाक को पूरी तरह ढक कर रखना चाहिए कथा हाथों को अच्छी तरह से साबुन से साफ करना चाहिए और सैनेटाइजर का प्रयोग करना चाहिए तथा जरूरी ही काम से इस आपत्ति की घड़ी में बाहर निकलना चाहिए।


भारत सरकार व प्रदेश सरकार की गाइडलाइन का पूरा मुस्तैदी और जागरूकता से नियमों को लागू किया जा रहा है जिससे कोरोना वायरस से बचा जा सके। जनपद का प्रशासन कोरोना वायरस को लेकर लोगोंं को जागरूक करने के लिए रिक्शा पर लाऊडस्पीकर जागरूक कर रहा है और सभी होटल व धर्मशाला में विदेशी यात्रियों के ठहरने पर रोक और एडवांस बुकिंग कैंसिल करने के लिए अनाउंसमेंट कराया कर रहा है।