कोरोना के खिलाफ जंग में सीड्स हुआ शामिल

नवल टाइम्सः सीड्स ने भारत सरकार,, उत्तराखंड, बिहार, दिल्ली, कर्नाटक, केरल, महाराष्ट्र और ओडिशा की राज्य सरकारों के साथ साझेदारी में आर्थिक रूप से कमजोर लोगों तक मदद पहुंचाने का काम शुरू किया है।


समुदायों को सक्षम बनाने के काम में सक्रिय मानवतावादी संगठन सीड्स हर क्षेत्र में इस महामारी के कारण शारीरिक स्वास्थ्य, मानसिक स्वास्थ्य और आर्थिक स्थितियों पर पड़ने वाले प्रभावों से निबटने के लिए विभिन्न स्तरों पर प्रशासन के साथ मिलकर काम कर रहा है। 
कोरोना वायरस बीमारी 2019 (कोविड-19) के वैश्विक प्रकोप ने 195 से अधिक देशों को प्रभावित किया है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की रिपोर्ट के अनुसार अब तक कोविड-19 के 600 से अधिक मामलों की पुष्टि हो चुकी है और इस बीमारी से 9 मौतों की पुष्टि हुई है।


इस स्थिति में कल्याण कार्यों को भी धक्का लगा है। दिहाड़ी मजदूर अस्थाई तौर पर बेरोजगार हो गए हैं जबकि उनके पास बहुत कम बचत होती है और इस कारण वे अपने और अपने परिवार की बुनियादी जरूरतों को पूरा कर पाने में असमर्थ हैं। ऐसे प्रमाण हैं कि जिन लोगों की उम्र 60 साल से अधिक है और जो पुरानी बीमारियों से ग्रस्त हैं उन्हें कोविड-19 की चपेट में आने तथा उनकी स्थिति गंभीर होने का खतरा अधिक होता है और साथ ही उनमें कोविड-19 के कारण मृत्यु दर भी अधिक होती है।


सीड्स सुविधाओं से बंचित तथा कोविड-19 से सबसे अधिक प्रभावित होने वाले तथा इस महामारी के फैलने के कारण आर्थिक तौर पर सबसे अधिक प्रभावित होने वाले लोगों, खासतौर पर बुजुर्गों, बच्चों तथा अग्रिम पंक्ति के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं तक मदद पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है।