कोरोना संक्रमित ट्रेनी आईएफएस के रवैये से डॉक्टर और अन्य स्टाफ परेशान
नवल टाइम्सः राजकीय दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित ट्रेनी आईएफएस के रवैये से डॉक्टर और अन्य स्टाफ परेशान है। वह खाना खाने से लेकर पीने के पानी और अन्य तमाम चीजों को लेकर डॉक्टर और स्टाफ से कई तरह के सवाल कर रहे हैं।

एक डॉक्टर ने तो उनके रवैए को लेकर आ रही समस्या से आजिज होकर इसे फेसबुक पर भी पोस्ट किया है। यह पोस्ट सोशल मीडिया पर जबरदस्त तरीके से वायरल हो रही है। हालांकि मामला बढ़ता देख अधिकारियों के कहने पर डॉक्टर ने यह पोस्ट अपने फेसबुक से डिलीट कर दी है।

अस्पताल के अधिकारियों का कहना है कि इस बारे में स्वास्थ्य विभाग और शासन प्रशासन के उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है।

अस्पताल के सूत्रों का कहना है कि वह मरीज नहीं बल्कि स्टार्स की तरह व्यवहार करते हैं, डॉक्टरों और स्टाफ से अनावश्यक सवाल पूछते हैं। वायरल पोस्ट के मुताबिक ट्रेनी आईएफएस स्वीगी और जोमेटो से खाना मंगाने की बात करते हैं।

अस्पताल में लगे आरओ के पानी के बजाय मिनरल वाटर और कई बार होटलों की तरह कॉफी-चाय आर्डर करते है। कई बार तो स्टाफ को अपनी जेब से खर्च करना पड़ रहा है।

डॉक्टर के मुताबिक, सभी जरूरी और अच्छी सुविधाएं मुहैया कराई गई है। इन सबके बावजूद उनका व्यवहार ठीक नहीं है। उनकी पोस्ट धड़ाधड़ वायरल हो गई। कई अन्य डॉक्टर्स एवं लोगों ने उनका समर्थन किया और कहा कि इन ट्रेनी अफसरों को सहयोग करना चाहिये।