कोरोना वायरस के कारण निःशुल्क ऑनलाइन लाइव कक्षा चलाने की घोषणा
देहरादूनः कोरोना वायरस के प्रकोप और इसके कारण उत्पन्न अनिश्चितता ने पूरे भारत में स्कूलों और शैक्षणिक संस्थानों को प्रभावित किया है। ऐसी स्थिति में, भारत में प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कराने वाले संस्थान और एडटेक प्रमुख आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड (एईएसएल) ने अपनी सहायक कंपनी, मेरिटनेशन के माध्यम से छात्रों के लिए विशेष निःशुल्क लाइव क्लासेस आयोजित करने की घोषणा की है। क्लासेस पहली से 12वीं कक्षा तक के छात्रों और जेईई एनईईटी इत्यादि जैसी विशेष परीक्षाओं के लिए आयोजित की जाएगी। इससे स्कूल और संस्थान के बंद होने से छात्रों की पढ़ाई की प्रक्रिया पर पड़ने वाले असर को कम करने में मदद मिलेगी।

इसके अलावा, मेरिटनेशन जेईई एनईईटी की परीक्षा में शामिल होने वाले छात्रों के लिए निः शुल्क लाइव क्लासेस भी आयोजित करेगा। जेईई 2020 की परीक्षा 5 अप्रैल से 11 अप्रैल तक और एनईईटी 2020 की परीक्षा 3 मई को आयोजित होने वाली है। इन प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए तैयारी का यह अंतिम चरण महत्वपूर्ण है। इसलिए ये कक्षाएं यह सुनिश्चित करेंगी कि छात्र अपने घरों में पूरी सुरक्षा के साथ अध्ययन कर सकें और उनके अध्ययन के कार्यक्रम की निरंतरता भी बनी रहे।

उन्होने कहा, “अपने घर में अध्ययन करने के लिए अनुशासन के एक निश्चित बुनियादी स्तर की आवश्यकता होती है, लेकिन अगर कोई छात्र इसका पालन करता है, तो इससे उसे बहुत अधिक लाभ होगा। शैक्षणिक व्यवधान की स्थिति में, हम छात्रों के लिए उनके घरों में लाइव क्लास की सुविधा प्रदान करने के लिए स्कूलों के साथ मिलकर काम करेंगे। सभी शिक्षक अपने छात्रों की मदद करने के लिए किसी भी सहायता के लिए मेरिटनेशन तक पहुँच सकते हैं।

एईएसएल के निदेशक और सीईओ आकाश चैधरी ने कहा, ‘‘एईएसएल परिवार के लिए, हमने ‘स्टूडेंट्स फस्र्ट’ को हमेशा प्राथमिकता दी है। हमें बच्चों को घर से अपनी नित्य शिक्षा जारी रखने के लिए सुपर सपोर्ट करने की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। हमारे तकनीक प्लेटफॉर्म ने कोविड- 19 वायरस के कारण षिक्षा में हो रहे व्यवधान पर जीत हासिल की है।” भारत में प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी कराने वाले एक प्रमुख शैक्षिक संस्थान, आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड ने जनवरी, 2020 में एप्लेक्ट लर्निंग सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड का अधिग्रहण करने के लिए इंफो एज (इंडिया) लिमिटेड के साथ एक निश्चित समझौता करके के12 छात्रों की सुविधा के लिए एड-टेक कंपनी का अधिग्रहण किया।