महिलाएं ताकत और सकारात्मक बदलाव के लिए जानी जातीः रूपल दलाल

देहरादून: महिला दिवस सुरक्षा, शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार जैसे समसामयिक मुद्दों पर जागरूकता पैदा करने तथा एक खास आंदोलन के साथ जुड़ने के उद्देश्य से दुनिया भर में मनाया जाता है। हर साल, महिला दिवस के अवसर पर एक नए एजेंडे और नए दृष्टिकोण के साथ नारी शक्ति का जश्न मनाया जाता है।


इस साल का थीम है इच-फॉर-इक्वल और इसका उद्देश्य है लैंगिक समानता को बढ़ावा देना क्योंकि बराबरी की भावना वाला विश्व ही सक्षम विश्व है और हम में से हर व्यक्ति लैंगिक समानता कायम करने में योगदान दे सकता है।
जब हम अपने चारों ओर देखते हैं, तो हम उन महिलाओं की बहुत सी प्रेरक कहानियाँ पाते हैं, जो राजनीति, शिक्षा, अंतरिक्ष, फैशन आदि जैसे अपने-अपने क्षेत्र में असाधारण काम कर रही हैं।


इस वर्ष हमारे प्रधान मंत्री ने ऐसी सराहनीय पहल की है जिसके तहत वह महिलाओं को इंस्पायरअस के अपने व्यक्तिगत सोशल अकाउंट से अपनी प्रेरक कहानियां साझा करने को कह रहे हैं। महिलाएं ताकत और सकारात्मक बदलाव के लिए जानी जाती हैं और इसलिए हम सभी उद्योग में एक नई ऊर्जा, नवाचार और सृजन लाने के लिए तैयार हैं।