पौड़ी जिले के प्रमुख धार्मिक स्थलों पर आवाजाही पर रोक

पौड़ीः कोरोना वायरस के मद्देनजर पौड़ी जिले के सभी प्रमुख धार्मिक स्थलों पर आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। यह रोक 31 मार्च तक रहेगी।


पौड़ी के डीएम धीराज सिंह गब्र्याल ने बताया कि जिले के उन प्रमुख धार्मिक स्थलों जहां प्रति दिन भीड़ अधिक होती है और बाहर से आने वाले श्रद्धालु भी दर्शन और पूजा के लिए पहुंचते हैं ऐसे सभी धार्मिक स्थलों पर एहतियातन यह रोक प्रभावी रहेगी। हालांकि डीएम ने कहा है कि इन मंदिरों में नियमित पूजा-अर्चना पर किसी तरह की रोक नहीं होगी।


संबंधित पुजारी अपनी नियमित पूजा-अर्चना रोज की भांति करते रहेंगे। यह कदम कोरोना वायरस के बचाव को लेकर उठाया गया है। डीएम ने बताया कि पौड़ी जिले में सिद्धबलि, नीलकंठ, धारी देवी, ज्वाल्पा देवी आदि प्रमुख धार्मिक स्थलों पर प्रायरू बहुत अधिक श्रद्धालु की भीड़ रहती है और बाहर से भी श्रद्धालु यहां पहुंचते हैं लिहाजा ऐसे प्रमुख धार्मिक स्थलों को लेकर यह कदम उठाया गया है।


लक्ष्मण झूला में गंगा आरती एवं योगा गतिविधियों पर भी रोक लगाई गई है। डीएम ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव हेतु जिले बाहरी लोगों की धार्मिक स्थलों में आवागमन की संवेदनशीलता के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है। कहा कि प्रशासन सक्रियता से कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के प्रति लोगों को भी जागरूक कर रहा है।


विभिन्न क्षेत्रों में स्वास्थ्य टीम द्वारा जन जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं। कोरोना वायरस से होने वाले महामारी से बचाव के संबंध में प्रभावी कदम उठाने तथा सतर्कता बरते जाने के निर्देश दिए गए हैं। डीएम ने इसके साथ ही सभी नगर निकायों को भी संबंधित क्षेत्रों के सार्वजनिक स्थल बस स्टेशन, रेलवे स्टेशन आदि में पेयजल प्वांइट, नल आदि में पानी की समुचित व्यवस्था और सेनेटाइजर, साबुन व सफाई व्यवस्था दुरस्त रखने जाने के निर्देश दिए हैं।