पौड़ीः बेटियों के प्रति जागरूक किया

पौड़ीः मुख्य चिकित्साधिकारी पौड़ी डॉ मनोज बहुखंडी के निर्देश पर एकेश्वर विकासखण्ड के धरासू, नौगांवखाल, गवानी, सेडियाखाल गाँव में परम पर्वतीय रंगमंच एवम सांस्कृतिक समिति के कलाकारों ने बेटी बचाओ पर आधारित नुक्कड़ नाटक द्वारा जिम्मेदारी है हमारी का भावपूर्ण मंचन कर जागरूकता अभियान चलाया।


नाटक की शुरुआत बेटा बेटा क्यों चाहिए बेटा.. गीत की प्रस्तुति से करते हुए कलाकारों ने हास्य और व्यंग के माध्यम से नाटक में दर्शया कि बेटियों के प्रति सोच में परिवर्तन बहुत जरूरी है। पीसी-पीएनडीटी एक्ट की जानकारी देते हुए कलाकारों ने बताया कि गर्भावस्था के दौरान लिंग जांच कानूनन अपराध है जिसके लिए ऐसा कुकृत्य करने वाले परिवार और डॉक्टर को दंडित किये जाने के प्रावधान है जिसके लिए 1 लाख अर्थदंड और 5 साल की सजा दी जा सकती है।


परम के टीम लीडर रंगकर्मी योगम्बर पोली ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग पौड़ी के सहयोग से पीसीपीएनडीटी के प्रचार प्रसार के लिए परम् द्वारा नुक्कड़ नाटकों का प्रदर्शन कियाजा रहा है।


परम् के दल में योगम्बर पोली, सुमित कुंवर, पारस रावत, रघुवीर पंवार, प्रीति रावत, इंदु नेगी शामिल है। धरासू में हुए कार्यक्रम में ग्राम प्रधान रीना देवी, क्षेत्र पंचायत सदस्य देवेंद्र सिंह, पूर्व प्रधान सैन सिंह रमोला सहित ग्रामीण उपस्थित रहे।