पुण्यतिथि पर याद किए गए पंडित गोविंद बल्लभ पंत


देहरादूनः उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी मुख्यालय में उत्तर प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री एवं भारत रत्न स्व0 गोविन्द बल्लभ पन्त की पुण्यतिथि पर उन्हें भावभीनी श्रर्दाजंलि अर्पित की गई।


इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि स्व0 पन्त को पहाड़ को देश के मानचित्र में जगह दिलाये जाने का श्रेय जाता है। सरदार पटेल के बाद भारत के गृहमंत्री के रूप में उनका महत्वपूर्ण योगदान हमेशा याद किया जाता रहेगा उन्होंने कहा कि स्व0 पन्त एक अच्छे कानूनविद थे और उन्होंने देश के गृहमंत्री रहते हुए भारतीय संविधान में हिन्दी भाषा को राष्ट्रभाषा का दर्जा दिलाने और दमींदारी प्रथा को समाप्त करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।


उत्तराखण्ड की आवाम हमेशा उन्हें अपने निकट पाती रही है, और स्व0 पन्त ने भी उनको उत्तर प्रदेश और केन्द्र दोनों सरकारों में उचित स्थान देने का काम किया। इस अवसर पर प्रदेश प्रवक्ता डाॅ0 आर0 पी0 रतूड़ी, गरिमा महरा दसौनी, महानगर अध्यक्ष लाल चन्द शर्मा, महामंत्री राजेन्द्र शाह, पूर्व दर्जाधारी मंत्री अजय सिंह, अखिल भारतीय कांगे्रस कमेटी के सदस्य अजय नेगी, कमलेश रमन, मीना रावत, राजेश चमोली, संदीप चमोली, कमर खान, जोत सिंह रावत, देवेन्द्र बुटोला, भरत शर्मा, मोहन काला, अमृता कौशल, सावित्री थापा, अनुराधा तिवाड़ी, मंजू चैहान, आदि कांगे्रस नेता उपस्थित रहे।