ऋषिकेश: मास्क और हैंड सैनिटाइजर को खुदरा मूल्य पर ही बेचनें के दिए निर्देश
ऋषिकेश:  कोरोना वायरस से बचाव को लेकर औषधि नियंत्रक अधिकारी ने शहर के दवा विक्रेताओं की बैठक ली। मास्क और हैंड सैनिटाइजर की उपलब्धता में कमी होने पर लोगों से मनमाने दाम न वसूलने के निर्देश दिए। दवा विक्रेताओं को आवश्यक संसाधन एक दूसरे को उपलब्ध कराने में सहयोग के निर्देश दिए।

रविवार को हरिद्वार मार्ग स्थित होटल घरौंदा में औषधि नियंत्रक अधिकारी गढ़वाल एसएस भंडारी ने केमिस्ट एसोसिएशन ऋषिकेश के पदाधिकारियों और दवा विक्रेताओं की बैठक ली।

इसमें कोरोना वायरस से बचाव को मास्क और हैंड सैनिटाइजर की उपलब्धता बनाए रखने पर चर्चा की गई। उन्होंने आवश्यक वस्तु अधिनियम के अंतर्गत मेडिकल स्टोर संचालक और विक्रेताओं को मास्क और सैनिटाइजर की उपलब्धता को लेकर आपसी तालमेल बनाने के निर्देश दिए। हिदायत दी कि यदि कोई मेडिकल स्टोर संचालक मास्क और सैनिटाइजर के निर्धारित मूल्य से अधिक दाम वसूलेगा तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

केमिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष संदीप मलहोत्रा ने आश्वस्त करते हुए कहा कि एसोसिएशन ने तय किया है सभी मेडिकल स्टोर संचालक मास्क और हैंड सैनिटाइजर को खुदरा मूल्य पर ही बेचेंगे। प्रत्येक दवा दुकान के बाहर नोटिस चस्पा किए जाएंगे।

मौके पर औषधि नियंत्रण निरीक्षक अनीता भारती, एसोसिएशन सचिव विनोद कोठारी, कार्यकारी सचिव वीरभद्र रतूड़ी, राकेश गुसाईं, जगदीश रतूड़ी आदि मौजूद थे। मेडिकल स्टोर का निरीक्षण औषधि नियंत्रक अधिकारी गढ़वाल एसएस भंडारी और निरीक्षक अनीता भारती ने मेडिकल स्टोरों में मास्क और सैनिटाइजर की उपलब्धता का पता लगाने के लिए औचक निरीक्षण भी किया।