सातवें बैच का कुंभ मेला ड्यूटी प्रशिक्षण का हुआ समापन


संजीव शर्मा, हरिद्वारः आगामी कुंभ मेला 2021 में ड्यूटी हेतु प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले अधिकारी-कर्मचारीगण के सातवें बैच का समापन हुआ। उक्त प्रशिक्षण सत्र में उत्तराखंड के समस्त जनपदों, वाहिनियों एवम इकाइयों से अधिकारी-कर्मचारीगण द्वारा प्रतिभाग किया किया गया।                                                                                                                 प्रशिक्षण सत्र के दौरान प्रशिक्षणार्थियों को कुम्भ मेले की व्यवस्थाओं से सम्बंधित विभिन्न विषयों के सम्बंध विद्वान एवम अनुभवी व्याख्याताओं द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को उपयोगी व्याखयान दिए गए। प्रशिक्षण के व्याख्यान सत्रों के दौरान डॉ अरविंद नारायण मिश्रा, प्रोफेसर संस्कृत विश्वविद्यालय हरिद्वार द्वारा कुम्भ मेले की महत्ता व इतिहास, प्रकाश चंद्र देवली पुलिस उपाधीक्षक कुम्भ मेला द्वारा कुम्भ मेले की पैदल एवम वाहन यातायात व्यवस्था, अखाड़ों के इतिहास, परम्पराओ एवम वर्तमान स्तिथी, सुरजीत सिंह पंवार, उपसेनानायक ए0टी0सी0 हरिद्वार द्वारा कुम्भ का महात्म्य एवम पुलिस की भूमिका, जे0 पी0 जुयाल, पुलिस उपाधीक्षक (सेवानिवृत्त) द्वारा कुम्भ मेले में होने वाले अपराधों की जानकारी एवम रोकथाम, कुम्भ के सम्भावित खतरों,  सुनीता वर्मा, एस0आइ0ओ0 हरिद्वार द्वारा वी0आई0पी0 ड्यूटी व कुम्भ सुरक्षा प्रबंधन, उ0नि0 आर0 के0 मंडल, पुलिस संचार द्वारा कुम्भ मेले में संचार व्यवस्था, ग्रिड की जानकारी एवम ब्ब्ज्ट व्यवस्था, उ0नि0 नवल किशोर गुप्ता कुम्भ मेला द्वारा कुम्भ क्षेत्र में मुख्य मुख्य मार्गों, घाटों, पुलों एवम मंदिरों, हीरा सिंह रौथाण, पुलिस उपाधीक्षक (सेवानिवृत्त) द्वारा भीड़ नियंत्रण की योजनाओं एवम जल पुलिस, मुख्य आरक्षी कमलेश जोशी, बम निरोधक दस्ता हरिद्वार द्वारा विभिन्न विस्फोटों की पहचान एवम बम मिलने पर बरती जाने वाली सावधानी एवम की जाने वाली कार्यवाही का अत्यन्त उपयोगी एवम व्यवहारिक व्याख्यान प्रशिक्षणार्थियों को दिए गए। प्रशिक्षण सत्र के मध्य में संजय गुंज्याल, पुलिस महानिरीक्षक कुम्भ मेला 2021 एवम श्रीमती नीरू गर्ग, पुलिस उपमहानिरीक्षक पी0ए0सी0 प्रधानाचार्य सशस्त्र प्रशिक्षण केंद्र हरिद्वार द्वारा भी प्रशिक्षणार्थियों का मार्गदर्शन किया गया।
प्रशिक्षणार्थियों को कुम्भ के दौरान पुलिस द्वारा किये जाने वाले व्यबहार हेतु मार्गदर्शन किया गया और कुम्भो के अपने अनुभवों को साझा किया गया। उक्त एक सप्ताह के प्रशिक्षण सत्र में समस्त जनपदों, वाहिनीयों एवम इकाइयों से 19 उपनिरीक्षक, 05 महिला उपनिरीक्षक, 19 मुख्य आरक्षी, 82 आरक्षी, 11 महिला आरक्षी, कुल 136 अधिकारी-कर्मचारीगण द्वारा प्रतिभाग किया गया। प्रशिक्षण सत्र का समापन जन्मजेय खंडूरी, एसएसपी कुम्भ मेला 2021 सेनानायक 40वीं वाहिनी पी0ए0सी0 हरिद्वार द्वारा अपने उद्बोधन के माध्यम से करते हुए प्रशिक्षणार्थियों को आगामी कुम्भ मेला 2021 की ड्यूटी हेतु शुभकामनाएं दी गई।