शहरी विकास मंत्री ने की निर्माण कार्यो की समीक्षा

संजीव शर्मा, हरिद्वारः शहरी विकास मंत्री उत्तराखण्ड सरकार मदन कोशिक ने जिलाधिकारी सी रविशंकर के साथ जनपद में भूमिगत विद्युत लाइन,पानी, सीवर लाइन,गेस पाइप लाइन के निर्माण कार्यो की समीक्षा बैठक कुम्भ मेला सी.सी.आर. सभा कक्ष में की।

समीक्षा के दौरान मंत्री मदन कौशिक ने निर्देश दिये कि जनपद मे चल रहे निर्माण कार्यो से संबधित विभाग के अधिकारी आपस मे सामन्जस्य बनाकर कार्य करें। सडक बिजली पानी की व्यवस्था का दुरूस्त किया जाए और अधिकारी अपने दायित्वो का इमानदारी से निर्वहन करें। 

उन्होने लोनिवि अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये कि सडको पर चल रहे निर्माण कार्यो को समयानुसार से पूरा करे तथा गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखें।

विद्युत विभाग के अधिकारियों को मेन रोड पर लटकी हुई के उपर  ही मीटर लगा दिये गये है इन्हे तत्काल ठीक करने के निर्देश शहरी विकास मंत्री ने दिये। उन्होने लोक निर्माण विभाग व नगर निगम के अधिकारियो को निर्देश दिये कि बरसात को देखते हुये आने जाने के रास्तो को तत्काल ठीक करे। मंत्री मदन कौशिक ने एनएच अधिकारियों को निर्देश दिये कि पुल जटवाडे से लेकर शांति कुंज तक जितने भी गडढे है इन गडढों को भरने का कार्य युद्व स्तर पर एक सप्ताह के अन्दर पूरा हो जाना चाहिये। मेरे द्वारा निरीक्षण करने पर यह कार्य पूरा नही हुआ तो सख्त कार्यवाही की जायेगी।

बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि कार्य करने के दौरान किसी विभाग द्वारा कोई पाइप लाइन टूटती है तो वो संबंधित विभाग के अधिकारियों को उसकी उसी समय सूचना देगें और उसे संबंधित विभाग तत्काल कार्यवाही कर उसे ठीक करेगा। 

उन्होने कहा कि विद्युत विभाग द्वारा कार्य पूर्ण करने पर उसी दिन से लोनिवि द्वारा कार्य शुरू कर दिया जाना चाहिये। जिलाधिकारी ने केबल नैटवर्क के तारो की समस्या को लेकर भी दिशा निर्देश दिये।

बैठक में नगर आयुक्त नरेन्द्र भंडारी, पवन कुमार अधिशासी अभियन्ता भूमिगत विद्युत लाइन, एस.सी पाण्डेयअधीक्षण अभियन्ता,दीपक कुमार अधिशासी अभियन्ता पीडबल्यूडी, अजय कुमार अधिशासी अभियन्ता जल निगम, मौ0मिशम अधिशासी अभियन्ता पेलजल निगम,संजय सिंह अधिशासी अभियन्ता अमृत, वैभव मित्तल एनएच,सहित संबंधित अधिकारी, इंजिनियर उपस्थित रहें।