टिहरी झील महोत्सव 17 मार्च से
टिहरीः 17 मार्च से शुरु होने वाले टिहरी झील महोत्सव की तैयारियों को लेकर डीएम ने मेला स्थल का स्थलीय निरीक्षण कर संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए। निरीक्षण के बाद डीएम ने अधिकारियों के साथ बैठक की महोत्सव आयोजन समितियों के प्रभारी अधिकारियों को आपसी समन्वय स्थापित करते हुए कार्य करने की बात कही।

गुरुवार को डीएम डॉ. वी. षणमुगम ने टिहरी झील महोत्सव को लेकर मेलास्थल का निरीक्षण कर तैयारियों का जायजा लिया। इस दौरान डीएम ने कहा कि महोत्सव में व्यवस्थाओं एवं कार्यक्रमों के लिए वांचित एवं इच्छुक प्रतिभागी व्यवस्थापकों, संस्थाओं, संघटनों, फर्मो, सांस्कृतिक दलों से उनके उपस्थित होने या न होने की स्वीकृति समय से प्राप्त करने को कहा। डीएम ने कहा कि संबंधित अधिकारी सभी व्यवस्थाओं को समय से स्थापित करते हुए कार्यक्रम में प्रतिभागियों की उपस्थिति का अंतिम रुप से खाका तैयार करना सुनिश्चित करें।

इसके साथ ही डीएम ने मेला आयोजन समितियों के प्रभारी आधिकारियों से भूमि का समतलीकरण, सांस्कृतिक कार्यक्रमों के कलाकार की सैद्वान्तिक स्वीकृति, आगंतुको के भोजन व ठहरने की व्यवस्था, साफ-सफाई व्यवस्था, विद्युत, पेयजल, शौचालय, कूड़ा निस्तारण, वाहन व्यवस्था, कन्ट्रोल रुम, हैलीपैड, बैरेकेटिंग, स्टॉल, साहसिक खेल सहित अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए जानकारी ली। इसके साथ ही डीएम ने मुख्य पाण्डाल, स्टेज, स्वीस टेंट कालोनी, पगोडा, फुड कॉर्ट, गंगा आरती, स्टॉल, किड जोन, पैराग्लाईडर लेंडिंग स्पॉट, वाहन पार्किंग स्थल, लेजर लाईट शो आदि व्यवस्थाओं का भी जायजा लिया।

इस मौके पर सीडीओ अभिषेक रुहेला, डीएफओ कोको रोसे, एडीएम शिवचरण द्विवेदी, डीडीओ आनन्द भाकुनी, एसडीएम फिंचाराम चैहान, निदेशक आईएचएम डॉ. यशपाल नेगी, केएस नेगी, जिला सेवायोजन अधिकारी विक्रम, ईओ राजेंद्र सजवाण आदि मौजूद रहे।