उपनल कर्मचारियों को दस माह से नहीं मिला वेतन

टिहरीः  सीएचसी देवप्रयाग व हिंडोलाखाल में उपनल से लगे स्वास्थयकर्मी बीते दस माह से मानदेय न मिलने के बावजूद कोरोना के खिलाफ पूरी ड्यूटी निभा रहे हैं। स्वास्थ्य सेवाओं के निरीक्षण को पहुंचे उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डा. धन सिंह रावत ने इसका संज्ञान लेते हुए उपनल कर्मियों के नाम शासन को भेजने के निर्देश दिये हैं।
सीएचसी देवप्रयाग में आठ वर्ष पूर्व उपनल की ओर से छह स्वास्थय कर्मी नियुक्त किये गए थे। जिनमें दो कक्ष सेवक, दो सेविका, एंबुलेस चालक व एक सफाईकर्मी शामिल हैं। पीपीपी मोड के तहत सीएचसी देवप्रयाग को हिमालियन हॉस्पिटल को सौंपे जाने के बाद उपनल से इन स्वास्थ्य कर्मियों में चार को समायोजन के तहत सीएचसी हिंडोलाखाल भेज दिया गया।


विभाग की ओर से इन सभी उपनल कर्मियों को नवीनीकरण कर मानदेय यथावत देने का आश्वासन दिया गया। इसके बावजूद कोई वायदा पूरा किए बिना जून 2019 से विभाग की ओर से इनसे लगातार काम लिया जा रहा है। आर्थिक संकट झेल कर भी यह उपनल कर्मी कोरोना के खिलाफ दिन रात अपनी सेवाएं दे रहे हैं। इस संबंध में सीएमओ टिहरी डा. मीनू रावत का कहना है कि ड्यूटी दे रहे इन उपनल कर्मियों के नवीनीकरण सहित उनके शेष भुगतान के लिए स्वास्थ्य निदेशक को पत्र लिखा गया है।