बड़ी खबरः एम्स ऋषिकेश में कोविड-19 मरीजों के बेड फुल



  • दून अस्पताल पर बढ़ा दबाव


नवल टाइम्सः कोरोना मामले को लेकर आज प्रदेश से बड़ी खबर सामने आई है। प्रदेश के सबसे बड़े मेडिकल संस्थान एम्स ऋषिकेश में कोरोना मरीजों के लिए जगह नहीं है।


ऋषिकेश एम्स में कोरोना पॉजिटिव मरीजों से अस्पताल के बेड फुल हो चुके हैं। सोमवार को एम्स से 3 मरीजों को देहरादून भेजा गया। ऋषिकेश एम्स के अस्पताल में बेड फुल हो जाने से दून मेडिकल कॉलेज पर मरीजों का दबाव बढ़ सकता है।
देहरादून सीएमओ बीसी रमोला और दून मेडिकल कॉलेज के एसीएसएस ने इस बात की पुष्टि की है। दरअसल, एम्स ऋषिकेश से 3 कोरोना संक्रमित मरीजों को देहरादून के दून मेडिकल कॉलेज में शिफ्ट किया गया है।


दून मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने अस्पताल में एम्स से 3 मरीजों के आने की पुष्टि की। देहरादून जिले में अब तक करीब 48 एक्टिव केस हैं। जिसमें से 14 केस दून मेडिकल कॉलेज के पास थे। इसमें तीन और केस एम्स से भेजे गए हैं। कुल 17 केस मेडिकल कॉलेज अटेंड कर रहा है। यानी इस लिहाज से अभी करीब 31 केस ही एम्स के पास मौजूद हैं।


चिंता की बात यह है कि यदि वाकई बेड फुल हो चुके हैं तो बढ़ रहे कोरोना आंकड़ों को अकेले दून मेडिकल कॉलेज कैसे संभाल पाएगा। दून मेडिकल कॉलेज में अब तक करीब 60 बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व किए गए हैं।  कोरोना संक्रमितों के लिए तय किये गये बेड फुल हो गये हैं। जिसके कारण मरीजों को शिफ्ट किया गया है।