चारधाम यात्रा खोलने पर गंगोत्री के रावल ने क्यों उठाये सवाल


उत्तराखंड सरकार द्वारा, चारधाम यात्रा को शुरू करने के साथ इसका विरोध भी शुरू हो गया है। गंगोत्री धाम के रावल शिवप्रकाश महाराज ने सरकार के फैसले पर सवाल उठाये हैं। उन्होंने कहा की कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते धामों में यात्रियों के लिए कोई व्यवस्था नहीं है।


रावल का कहना है कि जब गंगोत्री धाम में बाजार बंद है, होटल व गेस्ट हाउस पर ताले लटके हैं, ऐसे में यदि सरकार की घोषणा के बाद वहां श्रद्धालु पहुँच गए तो उनके रहने खाने का क्या होगा। उन्होंने कहा की महामारी के दौर में सभी भक्तों को घरों से ही भगवान् का स्मरण करना चाहिए।


शिवप्रकाश महाराज ने कहा की सरकार बिना तैयारियों के यात्रा चलाने का निर्णय ले रही है। जबकि उसको कोरोना संक्रमण को देखते हुए अभी यात्रा स्थगित रखनी चाहिए थी।


  बताते चलें कि, बीते दिनों राज्य सरकार ने उत्तराखंड वासियों के लिए चारधाम यात्रा शुरू कर दी थी। राज्य की सीमा के अंदर रहने वालों को सशर्त धामों में दर्शन हेतु जाने की अनुमति दी गयी थी। सरकार ने गाइडलाइन्स जारी कर कहा था की श्रद्धालु एक धाम में अधिकतम एक रात रुक सकते हैं।