दो सितम्बर को दुकानों पर काला झण्डे लगाने को लेकर बनाई रणनीति


हरिद्वारः  प्रदेश व्यापार मण्डल की एक बैठक एक रेस्टोरेंट मे आहुत की गई। बैठक मे 2 सितम्बर को प्रदेश व्यापार मण्डल के अपील पर कोरोना काल के बिजली-पानी व स्कूल की फीस माफ ना किए जाने के विरोध मे अपनी दुकानो मे काला झंडा लगने की अपील की गई और सरकार से तत्काल इस पर निर्णय लेने की माँग की गई।


बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष संजीव चौधरी ने कहा की सरकार व्यापारियो की बात तक सुनने को तैयार नही है। आज व्यापारी के सुख दुख मे सरकार कही खड़ी देखाइ नहीं दे रही है। व्यापारी के परिवार सड़कों पर आ गए है ऐसे मे अब आंदोलन के अलावा व्यापारी के पास कोई रास्ता नहीं बच रहा है।


एक व्यापार मण्डल तो सरकार के प्रवक्ता की तरह काम कर रहा है। आज तक एक बार भी इस व्यापारी मण्डल ने व्यापारियों की आवाज नहीं उठाई है। बस सरकार के एक विभाग की तरह ये लोग सड़कों पर सरकार की तारीफ करते नजर आ रहे है। हम सरकार के विरोध मे नही है पर आज सरकार ने व्यापारियों को उनके हाल पर छोड़ कर गलत किया है और आज भी सरकार हमारी माँगो पर गम्भीर हो कर निर्णय ले हम भी सरकार का साथ देंगे, पर इस समय हम सभी आंदोलन को मजबूर है। व्यापार मण्डल किसी पार्टी या सरकार का ना साथी है ना विरोधी। बस व्यापारी हित होना चाहिए।
बैठक में पूर्व शहर अध्यक्ष आदेश मारवाड़ी, शहर अध्यक्ष श्रवण गुप्ता, महामंत्री राम अरोरा, शहर अध्यक्ष कनखल जातिन, हर की पैड़ी अध्यक्ष सर्वेश्वरमूर्ति भट्ट, रावली महदुद अध्यक्ष सरदार कोमल सिंह, जिला उपाध्यक्ष सुनील प्रजापति, गंगा शरण चंदेरिया, अशोक गिरी, संदीप मेहता व मास्टर सतीश शर्मा,जिला कोषाध्यक्ष अजय अरोरा,शहर कोषाध्यक्ष नरेश शर्मा,मनीष जैन, अनुज गुप्ता, रोहित गिरी, आशुतोष वर्मा,गौरव मेहता, अजय गिरी, मनोज सिरोही, रिकी अरोरा, सुमित शर्मा,दीपचंद, राजीव गिरी, प्रणव कुमार, चंद्र्शेखर गोस्वामी व हेमन्त कुमार उपस्तिथ रहे।