हत्याकांड का खुलासा, पत्नी, बेटा व प्रेमी गिरफ्तार जानिये क्या है पूरी खबर

हरिद्वार:  भगवानपुर पुलिस ने 24 घंटे में खुब्बनपुर हत्याकांड का खुलासा करते हुए पत्नी, बेटे व महिला के प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही हत्या में प्रयुक्त हुए औजार भी बरामद किए।
एसएसपी हरिद्वार ने सिविल कोतवाली में घटना का खुलासा करते हुए बताया कि मृतक के भाई ब्रह्मपाल पुत्र भुल्लन निवासी खुब्बनपुर ने बृहस्पतिवार को भगवानपुर पुलिस को तहरीर देकर अपने बड़े भाई बालेश पुत्र भुल्लन की हत्या का आरोप लगाते हुए अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था।


घटना के खुलासे के लिए उनके निर्देश पर अलग-अलग टीमों का गठन किया गया। जांच में सामने आया कि मृतक की पत्नी बबली का बढ़ेडी बुजुर्ग निवासी राजाराम से प्रेम प्रसंग चल रहा था। यह दोनों अक्सर कंपनी में मिला करते थे। जब बबली भगवानपुर स्थित एक कंपनी में नौकरी के लिए जाती थी। तभी से बालेश व बबली के बीच अक्सर झगड़ा रहने लगा।


तब दोनों ने बालेश को अपने रास्ते से हटाने का प्लान बनाया। 19 अगस्त की रात्रि प्लान के अनुसार लाल सिंह मेडिकल स्टोर से 20 गोलियां नशे की लेकर आ गया और बबली ने चाय में दस गोली मिलाकर बालेश को दे दी। जब बालेश बेहोश हो गया, तो फोन कर बबली ने लाल सिंह को बुलाया और उन्होंने बालेश का गला दबाकर उसे मौत के घाट उतार दिया।


बाद में बबली, लाल सिंह ने बालेश के बेटे अरुण के साथ बाइक में बोरी में डाली गई लाश को लव्वा गांव के सुनसान रास्ते पर डाल दिया और लाल सिंह व अरुण घर आ गए। बाद में सुबह के करीब बबली बेटे अरुण के साथ शव को देखने पहुंची और दरांती से गर्दन को काट दिया। इस पर पुलिस ने उनके कब्जे से बोरे, दरांती बाइक व टेबलेट का पत्ता बरामद के साथ ही लाल सिंह, महिला बबली व बेटे अरुण को गिरफ्तार कर लिया।


बाद में तीनों को कोर्ट में पेश किया गया। टीम में थानाध्यक्ष संजीव थपलियाल, दरोगा संत सिंह जियाल, मनोज ममगई, गीता चौहान, कॉन्स्टेबल संजय, भाव सिंह, सुधीर, संजय, लाल सिंह व अशोक शामिल रहे।