राम-मंदिर निर्माण की शुरुवात होते ही उत्तराखंड में बीजेपी-कांग्रेस आमने सामने

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर उत्तराखंड में बीजेपी और कांग्रेस मंदिर को लेकर आमने सामने हो गए।


सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने जंहा राम मंदिर को लेकर कांग्रेस को अपनी स्थिति स्पष्ट करने की नसीहत दे डाली तो वहीं कांग्रेस ने भी त्रिवेंद्र रावत पर पलटवार करते हुए मंदिर पर राजनीति न करने की सलाह दी।


दरअसल बुधवार को अयोध्या में सैकड़ो सालों की प्रतीक्षा के बाद मंदिर निर्माण की शुरुवात पी एम नरेंद्र मोदी ने कर दी।


जिसके बाद कांग्रेस के तमाम बड़े नेताओं ने सोशल मीडिया पर मंदिर निर्माण को लेकर ट्वीट करते हुए बधाई दी।


इन बधाइयों पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कांग्रेस पर के लिये बोलते हर कहा कि कांग्रेस के अंदर घालमेल की विचारधारा है। वहां कुछ भी स्पष्ट नही है। जिसके चलते वे कहते कुछ है और करते कुछ , सीएम ने कहा कि अच्छा हुआ उनके अंदर की सच्चाई बाहर आ गई है।


रावत ने कांग्रेस को राम मंदिर को लेकर अपनी स्थिति स्पस्ट करने चाहिए कि वे मंदिर के पक्ष में है या मंदिर के विरोध में।


वहीं सीएम त्रिवेंद्र के इस बयान के बाद कांग्रेस ने सीएम पर पलटवार किया।


पीसीसी चीफ प्रीतम सिंह ने सीएम को मंदिर के मुद्दे पर राजनीति न करने की सलाह दी।


उन्होंने कहा मंदिर सभी की आस्था का विषय है। प्रीतम सिंह ने कहा कि भगवान राम सभी के ओर वर्षो का इंतजार आज पूरा हो रहा है।