शर्मनाक घटना, मकान मालिक ने शव घर में रखने को किया मना, परिवार ने शमशान में गुजारी रात

 







रुड़की के सलेमपुर में मानवता को शर्मशार कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां पर एक किरायेदार की ह्दय गति रूक जाने के कारण मौत हो जाने के बाद मकान मालिक ने शव को घर लाने के लिए ही मना कर दिया।


जिसके बाद मृतक के परिवार को शव के साथ पूरी रात श्मशान घाट में ही गुजारनी पड़ी है। शहर के कुछ समाजसेवियों को जब इस बात की जानकारी मिली तो उन्होंने श्मशान घाट में ही परिवार के लिए कुछ सुविधाएं उपलब्ध करवाई।


बता दें कि वाराणसी के रहने वाले महेंद्र सिंह रुड़की के सलेमपुर में एक किराए के मकान में रहते थे। वे पास की ही एक फैक्ट्री में काम करते थे। जबकि उनका परिवार बनारस में ही रहता है। मंगलवार की रात करीब दो बजे एक अस्पताल में उनकी हार्ट अटैक से मौत हो गई। जिसके बाद अस्पताल में उनके परिवार को घटना की सूचना दी।


जैसे ही उनका परिवार शव को लेकर उनके किराए वाले घर लेकर जाने की तैयारी करने लगा, तभी उनके मकान मालिक ने शव को घर लाने के लिए मना कर दिया। जिसके कारण इस परिवार को शव के साथ पूरी रात श्मशान घाट पर गुजारनी पड़ी।


शहर के ही समाजसेवी देशबंधु और नगर निगम के पार्षद संजीव राय को जब मामले की जानकारी हुई तो उन्होंने पीड़ित परिवार की मदद की। उन्होंने श्मशान घाट पर ही परिवार के रुकने और खाने पीने की सुविधा उपलब्ध करवाई।