उत्तराखंड में पर्यटन बढ़ाने को सरकार ने उठाये कई महत्वपूर्ण कदम


उत्तराखंड में पर्यटन को बढ़ावा देने की दिशा में प्रदेश सरकार ने कई महत्वपूर्ण निर्णयों का ऐलान किया है। इसके तहत पर्यटकों को छूट देने के निर्णय के साथ साथ केदारनाथ धाम में हेलीपैड के विस्तार फैसला किया है। प्रदेश कैबिनेट की बैठक में इन सभी प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की गई। हैलीपैड का विस्तार हो जाने के बाद केदारनाथ में चिनुक हेलीकॉप्टर भी उतर सकेगा।


पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि पर्यटन को बढ़ावा देने व पर्यटकों को छूट देने के लिए पर्यटक प्रोत्साहन कूपन योजना के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी।


पर्यटक प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत ई-बुकिंग करने वाले पर्यटकों को तीन दिन रहने पर एक हजार रुपये की छूट मिलेगी। केदारनाथ धाम में वर्तमान हेलीपैड का विस्तार कर उसे 100Û50 मीटर के आकार तक विस्तार दिया जाएगा। श्री जावलकर ने कहा कि इन कदमों से प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा।


एक अन्य अहम फैसले में सरकार ने कोविड के चलते बंद जिम कॉर्बेट टाइगर रिजर्व में एडवांस बुकिंग कराने वाले पर्यटकों को उनकी राशि वापिस करना तय किया है। इसके तहत पर्यटकों को एक करोड़ 85 लाख रुपये की राशि वापिस की जाएगी। पर्यटन की दृष्टि से जूना अखाड़ा महादेवी मंदिर के अंतर्गत आने वाले माया देवी मंदिर और भैरव देवी मंदिर की ऊंचाई बढाये जाने को भी मंजूरी दी गयी।


वहीं खरसाली से यमनोत्री रोपवे निर्माण में निर्माण कंपनी का बकाया सरकार ने देने का निर्णय किया है। अब इस रोपवे का निर्माण प्रदेश सरकार पीपीपी मोड में कराएगी।