हरिद्वारः पौराणिक स्थल सतीकुंड होगा नेचुरल गैस से प्रज्वलित


हरिद्वारः 2021 में होने वाले महाकुंभ से पहले कनखल स्थित विश्वप्रसिद्ध सतीकुण्ड के दिन बदलने वाले हैं। इस कुंड में दिल्ली के अमर जवान ज्योति की तर्ज पर प्राकृतिक गैस से हवन कुंड जलाया जाएगा।


मान्यता है कि अपने पति भोलेनाथ के अपमान से नाराज माता सती ने इसी स्थल पर हवन कुंड में कूद कर जान दे दी थी। सालों से यह सतीकुण्ड बदहाल स्थिति में है। अब हरिद्वार रुड़की विकास प्राधिकरण सतीकुण्ड स्थल को संवारने का कार्य करेगा जिसके तहत सतीकुण्ड में गंगा जल का निरंतर प्रवाह रहेगा।


इसके साथ ही सतीकुण्ड के बीचोबीच माता सती की प्रतिमा लगाई जाएगी और चौबीस घंटे यहां पर अमर जवान ज्योति की तर्ज ज्योति जलेगी। जिसके लिए हरिद्वार नेचुरल गैस अथॉरिटी ने तैयारियां शुरू कर दी है। मंगलवार को मेलाधिकारी दीपक रावत ने सभी विभागों के साथ सतीकुण्ड का निरीक्षण किया।