स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत शांतिकुंज ने चलाया सफाई अभियान



  • सफाई अभियान में तीन सौ से अधिक गायत्री साधकों ने बहाया पसीना


हरिद्वार:  शांतिकुंज परिवार ने स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत आज वृहद स्तर पर सफाई अभियान चलाया। गायत्री साधकों ने शांतिकुंज के गेट नं. दो से लेकर गेट नं. पांच तक के नेशनल हाइवे  के किनारों में फैले कूड़ा-कचरा एवं झाड़ियों आदि की सफाई की, तो वहीं सप्त सरोवर क्षेत्र में भी शांतिकुंज के साधकों ने जमकर पसीना बहाया।


इस दौरान सड़क के किनारों पर निर्धारित स्थान पर अंतेवासी कार्यकर्त्ता भाई-बहिन दोपहर ढाई बजे से ही सेवा कार्य में जुट गये थे जो शाम तक चला। पाँच-सात साल के कई छोटे बच्चों ने भी अपने माता-पिता के साथ सफाई अभियान में भाग लिया। सफाई अभियान में निकाले गये कूड़ा-कचरा को ट्रेक्टर ट्राली से निस्तारण के लिए भेजा गया, इस अभियान का नेतृत्व शांतिकुंज व्यवस्थापक महेन्द्र शर्मा ने किया।


उल्लेखनीय है कि स्वच्छ भारत अभियान के तहत गायत्री तीर्थ के आसपास के क्षेत्रों में स्वच्छता अभियान चलाने की प्रेरणा शांतिकुंज अधिष्ठात्री  शैलदीदी ने दी। इस अवसर पर  शैलदीदी ने कहा कि हमारे आस-पास स्वच्छता रहेगी, तभी हमारा तन एवं मन स्वस्थ रहेगा और बीमारियों से बचा जा सकेगा।


व्यवस्थापक महेन्द्र शर्मा ने बताया कि अखिल विश्व गायत्री परिवार समय-समय पर विभिन्न रचनात्मक कार्यक्रम चलाता रहा है। अपने इसी कार्यक्रम के तहत नेशनल हाइवे एवं सप्तसरोवर क्षेत्र में गायत्री साधकों ने सफाई अभियान में पसीना बहाया। इस अभियान में शिवप्रसाद मिश्र, प्रमोद भटनागर, प्रो. विश्वप्रकाश त्रिपाठी, कामता प्रसाद साहू,  पुनीत, राजेश, अरुण, मनीष, आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।